All Categories

lakes of india, ladakh lake,india lakes map,

lakes of India,ladakh lake,india lakes map

भारत की प्रमुख झीलें

  • भारत की सबसे बड़ी तटीय झील चिल्का झील ( ओडिशा ) है , जो खारे पानी की एक लैगून झील है । यहाँ नौसेना का प्रशिक्षण केन्द्र भी है । वर्षा ऋतु में चिल्का झील का दाया ( Daya ) और भार्गवी ( Bhargavi ) नदी से जल प्राप्त होता है । इस झील की लम्बाई 65 किमी . , चौड़ाई 8 से 20 किमी और गहराई लगभग 2 मीटर है
            झील     :   संबंधित राज्य
  •  डल झील :जम्मू कश्मीर
  • वूलर झील : जम्मू कश्मीर
  • बेरीनाग झील : जम्मू कश्मीर
  • मानसबल झील : जम्मू कश्मीर
  • राजसमंद झील : राजस्थान
  • पिछोला झील : राजस्थान
  • सांभर झील : राजस्थान
  • सातताल झील :उत्तराखंड
  • नैनीताल झील : उत्तराखंड
  • राकस ताल झील : उत्तराखंड
  • माला ताल झील : उत्तराखंड
  • हुसैन सागर झील : आंध्र प्रदेश
  • पुलिकट झील :तमिलनाडु व आंध्र प्रदेश
  • लोकटक झील : मणिपुर
  • नागिन झील : जम्मू कश्मीर
  • शेषनाग झील : जम्मू कश्मीर
  • अनंतनाग झील : जम्मू कश्मीर
  • लूणकरणसर झील : राजस्थान
  • जयसमंद झील : राजस्थान
  • फतेहसागर झील : राजस्थान
  • डीडवाना झील : राजस्थान
  • देवताल झील : उत्तराखंड
  • नकुछियातल : उत्तराखंड
  • खुरपाताल : उत्तराखंड
  • कोलेरू झील : आंध्र प्रदेश
  • चिल्का झील :उड़ीसा
  • लोनार झील : महाराष्ट्र
  • बेबन्द झील : केरल
  • अष्टमुदी झील : केरल
  • पेरियार झील : केरल
  • भारत में सबसे अधिक खारे पानी की झील सांभर झील ( क्षेत्रफल 230 किमी 24 ) राजस्थान है ।
  • भारत में सबसे बड़ी मीठे पानी की झील बुला झील ( क्षेत्रफल 160 किमी 24 ) जम्मू – कश्मीर में है । तुलबुल परियोजना इसी पर स्थित है ।
  • भारत की सबसे बड़ी कृत्रिम झील गोविन्द बल्लभ पन्त सागर है , जो रिहन्द नदी पर बनाए गए बांध से बना है ।
  • पहाड़ियों से घिरे अभिकेन्त्री अपवाह पाले विस्तृत समतल गर्त को बॉलसन ( Folsons ) कहते हैं ।
  • चौरस सतह तथा अनप्रवाहित द्रोणी वाली छोटी झीलों को प्लाया ( Playas ) कहते हैं । इसमें वर्षा का पानी जमा होता है , परन्तु जल्दी ही भाप बन कर उड़ जाता है । अधिक नमक वाली प्लाया को सैलिनास कहते हैं । प्लाया को अरब रेगिस्तान में खबारी तथा ममलाहा तथा सहारा में शिट्ट कहते हैं ।
  • सांभर व डीडवाना थार मरुस्थल के पूर्वी सिरे पर खारे पानी की झील है । सांभर झील बॉलसन का , डीडवाना झील प्लाया का उदाहरण है ।
  • भारत में सबसे अधिक ऊँचाई पर स्थित झील चोलामू झील ( Cholamu Lake ) ( सिक्किम ) है । तीस्ता नदी का उद्गम यहीं से होता है ।
  • महाराष्ट्र के बुलढ़ाना जिले में स्थित लोनार झील ज्वालामुखी उद्गार से बनी झील है ।
  • उकाई ( गुजरात ) ताप्ती नदी पर स्थित मानवनिर्मित झील है ।
  • राणाप्रताप सागर व जवाहर सागर ( राजस्थान ) एवं गांधी सागर ( मध्य प्रदेश ) चंबल नदी पर स्थित झीलें हैं ।
  • नागार्जुन सागर ( नालगोंडा जिला तेलंगाना तथा गुंटर जिला आन्ध्रप्रदेश ) कृष्णा नदी पर निजामसागर ( तेलंगाना ) मंजरा नदी पर एवं तुंगभद्रा ( कर्नाटक ) तुंगभद्रा नदी पर मानव निर्मित झील है ।
  • लोकटक झील ( मणिपुर ) पूर्वोत्तर भारत में मीठे पानी की सबसे बड़ी झील है । इस झील में केबुललामजाओं नाम का तैरता हुआ राष्ट्रीय पार्क है ।
  • हुसैनसागर झील हैदराबाद व सिकंदराबाद के मध्य स्थित है ।
  • पश्चिमी तट पर स्थित बेम्बानद झील ( केरल ) एक लैगून झील है । इसी झील में वेलिंगटन द्वीप है जहाँ पर राष्ट्रीय नौकायन प्रतियोगिताएँ होती हैं । भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग NH – 47A वेलिंगटन द्वीप पर ही है ।
  • पूर्वी तट पर स्थित पुलीकट झील भारत की दूसरी सबसे बड़ी लैगून झील है । इसका 84 % भाग आन्ध्र प्रदेश में एवं 16 % भाग तमिलनाडु में पड़ता है । बैरियर टापू जिसका नाम श्रीहरिकोटा है , इसे बंगाल की खाड़ी से अलग करता है । श्रीहरिकोटा द्वीप पर सतीश धवन उपग्रह प्रक्षेपण केन्द्र है ।
  • पुलीकट झील के जल का मुख्य सोत अरानी ( Arani ) , कालंजी ( Kalangi ) एवं स्वर्णमुखी ( Sivarnamukhi ) नदियाँ हैं । बकिंघम नहर , पुलीकट झील के पश्चिमी हिस्से में है ।
  • पुलीकट झील के आन्ध्र प्रदेश ( नालौर जिला ) वाले हिस्से में 1976 ई . में एवं तमिलनाडु तिरुवलुर ( Thiruvallur ) जिला ] वाले हिस्से में 1980 ई . में एक पक्षी अभयारण्य स्थापित किया गया ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *