All Categories

India,भारत ,भारत का कुल क्षेत्रफल,भारत की स्थलीय सीमा,कर्क रेखा,

India,भारत ,भारत का कुल क्षेत्रफल,भारत की स्थलीय सीमा,कर्क रेखा,

  • हमारे देश का नाम ‘ भारत ‘ है । प्राचीन काल से अब तक भारत को अनेक नामों से पुकारा गया है । प्राचीन काल में भारत के विशाल उपमहाद्वीप को ‘ भारतवर्ष ‘ के नाम से जाना जाता था । संभवत : भारत का नामकरण ऋग्वैदिक काल के प्रमुख जन ‘ भरत ‘ के नाम पर किया गया ।
  • वायु पुराण के एक अन्य संदर्भ में दुष्यंत और शकुंतला के पुत्र ‘ भरत ‘ का उल्लेख मिलता है , जिनके नाम पर इस भू – भाग का नाम ‘ भारत ‘ पड़ा । वास्तव में ‘ भारत ‘ शब्द का सर्वप्रथम उल्लेख पुराणों में ही मिलता है । भारत जंबू द्वीप का दक्षिणी भाग था । आर्यों का निवास स्थल होने के कारण इसका नामकरण ‘ आर्यावर्त ‘ के रूप में हुआ ।
  • मध्यकालीन इतिहास लेखकों ( फारसी और अरबी ) ने इस देश को ‘ हिंद ‘ अथवा ‘ हिंदुस्तान ‘ शब्द से संबोधित किया ।
  • भारत के पर्याय के रूप में प्रयुक्त ‘ इंडिया ‘ शब्द की व्युत्पत्ति यूनानी शब्द ‘ इण्डोई ‘ ( Indoi ) से मानी जाती है

आकार एवं भौगोलिक अवस्थिति ( Size and Geographical Location )

  •  भारत का कुल क्षेत्रफल लगभग 32,87,263 वर्ग किलोमीटर है जो विश्व के कुल भौगोलिक क्षेत्रफल का 2.4 प्रतिशत है ।
  • भारत की आकृति लगभग चतुष्कोणीय है । इसका उत्तर – दक्षिण तक अधिकतम विस्तार 3,214 किलोमीटर तथा पूर्व – पश्चिम तक अधिकतम विस्तार 2,933 किलोमीटर है ।
  • मुख्य भूमि , अंडमान – निकोबार द्वीप समूह तथा लक्षद्वीप समूह सहित भारत के तट रेखा की कुल लंबाई लगभग 7,517 किलोमीटर ( 7,516.6 किमी ० ) है ।
  • भारत की स्थलीय सीमा की लंबाई 15106.7 किमी . ( अन्य स्रोतों में 15,200 किमी . ) है ।
  • भारत पूरी तरह से उत्तर – पूर्वी गोलार्द्ध में स्थित है । यह 8 ° 4 ‘ उत्तरी अक्षांश से 37 ° 6 ‘ उत्तरी अक्षांश के बीच तथा 6897 ‘ पूर्वी देशांतर से 97 ° 25 ‘ पूर्वी देशांतर तक विस्तृत है । कर्क रेखा ( 23 ° 30 ‘ उत्तरी अक्षांश ) देश  को लगभग दो बराबर भागों ( उत्तर – दक्षिण ) में विभक्त करती  का दोनों अक्षांशीय व देशांतरीय विस्तार लगभग 30 ° है ।
  • भारत की मुख्य भूमि उत्तर में लद्दाख संघ राज्य क्षेत्र ( पूर्व में जम्मू – कश्मीर ) से लेकर दक्षिण में कन्याकुमारी तक और पूर्व में अरुणाचल प्रदेश से लेकर पश्चिम में गुजरात तक फैली हुई है ।
  • भारत के उत्तर – पश्चिम , उत्तर तथा उत्तर – पूर्वी सीमा पर नवीनतम मोड़दार पर्वतों का विस्तार पाया जाता है , जबकि दक्षिण में प्रायद्वीपीय क्षेत्र का विस्तार पाया जाता है । भारत का प्रायद्वीपीय भू – भाग उत्तर में अधिक चौड़ा तथा 22 ° उत्तरी अक्षांश से दक्षिण की ओर सँकरा होता गया है ।
      1 फैदम = 6 फुट 

       1 मानक मील = 1.584 किमी.

        1समुंद्री मील = 1.824 किमी.

  • हिमालय पर्वतमाला द्वारा भारतीय प्रायद्वीप की मुख्य भूमि को एशिया से अलग किया जाता है । भारत , पूर्व में बंगाल की खाड़ी , पश्चिम में अरब सागर और दक्षिण में हिंद महासागर से घिरा हुआ है ।
अंचल (Zone) सम्मिलित राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश
उत्तरी क्षेत्र(Northern zone) जम्मू कश्मीर, लद्दाख, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा चंडीगढ़, दिल्ली ,राजस्थान
पूर्वी क्षेत्र(Eastern zone) बिहार, झारखंड ,उड़ीसा ,पश्चिम बंगाल
पश्चिमी क्षेत्र(Western Zone) गुजरात ,महाराष्ट्र, गोवा, दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव
मध्यवर्ती क्षेत्र(Central zone) मध्य प्रदेश ,छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश ,उत्तराखंड
दक्षिणी क्षेत्र(South zone) कर्नाटक, केरल ,तमिलनाडु ,आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पदों चोरी ,अंडमान एवं निकोबार लक्ष्यद्वीप
पूर्वोत्तर क्षेत्र( North Eastern Zone) सिक्किम, असम ,मेघालय ,अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर ,नागालैंड, मिजोरम, त्रिपुरा
  • भारत की मुख्य भूमि से दूर अंडमान तथा निकोबार द्वीप समूह में स्थित दक्षिणतम बिंदु ‘ इंदिरा पॉइंट ‘ अथवा पिगमेलियन पॉइंट ( ग्रेट निकोबार द्वीप ) तथा भारत का सबसे उत्तरी बिंदु ‘ इंदिरा कॉल ‘ ( लद्दाख ) है ।
  • भारत का सबसे पूर्वी बिंदु ‘ किबीथु ‘ ( अरुणाचल प्रदेश ) तथा पश्चिमी बिंदु ‘ गुहार मोती ‘ ( कच्छ ज़िला , गुजरात ) है । भारतीय मुख्यभूमि का सबसे दक्षिणतम बिंदु ‘ केप कोमोरिन ‘ ( कन्याकुमारी , तमिलनाडु ) है ।
  • भारत में कुल 28 राज्य तथा 8 केंद्रशासित प्रदेश हैं , जिन्हें मुख्य रूप में 6 अंचलों ( Zones ) में बाँटा गया है
  • लगभग 30 ° के देशांतरीय विस्तार के कारण देश को दो समय मेखलाओं में बाँटा जा सकता है , परंतु इस समस्या का समाधान 82 ° 30 ‘ पूर्वी देशांतर रेखा को भारतीय मानक समय के निर्धारण हेतु मानक याम्योत्तर ( Standard Meridian ) के रूप में मानकर कर लिया गया है ,
  • जो कि उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर ( कुछ स्रोतों में इसे इलाहाबाद के ‘ नैनी ‘ को भी बताया गया है । ) से होकर गुजरती है । यह ‘ मानक समय रेखा ‘ भारत के उत्तर प्रदेश , मध्य प्रदेश , छत्तीसगढ़ , ओडिशा एवं आंध्र प्रदेश राज्यों से होकर गुज़रती है ।
  • भारतीय मानक समय रेखा , ग्रीनविच समय से 5 घंटा 30 मिनट आगे रहती है । देश की सबसे पूर्वी व सबसे पश्चिमी देशांतर रेखाओं के मध्य लगभग 30 ° का अंतर होने के कारण सुदूर पूर्वी व सुदूर पश्चिमी भागों के समय में लगभग 2 घंटे का अंतराल होता  है।
नोट : विश्व के देशों ने आपसी समझ के तहत मानक याम्योत्तर को 7 ° 30 ‘ देशांतर के गुणांक पर चुना है , यही कारण है कि 82 ° 30 ‘ पूर्वी याम्योत्तर को भारत का मानक याम्योत्तर चुना गया है । – यू.एस.ए. में 9 समय कटिबंध ( Time Zone ) हैं , जबकि रूस में 11 समय कटिबंध हैं ।
  •  कर्क रेखा ( 23 ° 30 ‘ उत्तरी अक्षांश ) देश के कुल 8 राज्यों- गुजरात , राजस्थान , मध्य प्रदेश , छत्तीसगढ़ , झारखंड , पश्चिम बंगाल , त्रिपुरा एवं मिज़ोरम से होकर गुजरती है ।
  • मानक समय रेखा एवं कर्क रेखा आपस में एक – दूसरे को छत्तीसगढ़ में काटती हैं । भारत एकमात्र ऐसा देश है , जिसके नाम पर किसी ‘ महासागर ‘ ( हिंद महासागर ) का नामकरण किया गया है ।
  • भारत के पूर्वी और पश्चिमी घाट ‘ नीलगिरी ‘ में आकर मिलते हैं ।
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य राजस्थान और सबसे छोटा राज्य गोवा है ।
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा केंद्रशासित प्रदेश जम्मू – कश्मीर तथा सबसे छोटा लक्षद्वीप है ।
  • जनसंख्या की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश और सबसे छोटा राज्य सिक्किम है ।
  • जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा केंद्रशासित प्रदेश दिल्ली तथा सबसे छोटा लक्षद्वीप है ।
  • दमन एवं दीव के बीच खंभात की खाड़ी अवस्थित है ।
  • उत्तर – पूर्वी राज्यों- अरुणाचल प्रदेश , असम , मेघालय , मणिपुर , मिज़ोरम , नगालैंड एवं त्रिपुरा को ‘ सात बहनों ‘ की संज्ञा दी जाती है ।
  • भारत के राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है , जिसकी सीमा सर्वाधिक राज्यों से जुड़ी हुई है । उत्तर प्रदेश की सीमा कुल 8 राज्यों एवं एक केंद्रशासित प्रदेश ( दिल्ली ) से जुड़ी हुई है , जिसमें सर्वाधिक सीमा ‘ मध्य प्रदेश ‘ से एवं सबसे कम सीमा ‘ हिमाचल प्रदेश ‘ से संलग्न है ।
  • भारत में 9 राज्यों तथा 4 केंद्रशासित प्रदेशों की सीमाएँ समुद्री तटरेखा से लगी है , जिसमें गुजरात की समुद्री तटरेखा सबसे लंबी तथा सबसे छोटी समुद्री तटरेखा वाला राज्य ‘ गोवा ‘ है । 19 राज्य एवं 4 केंद्रशासित प्रदेश स्थलरुद्ध ( Land locked ) हैं , इनमें से 5 राज्य ( हरियाणा , छत्तीसगढ़ , तेलंगाना , मध्य प्रदेश और झारखंड ) एवं 2 केंद्रशासित प्रदेश दिल्ली एवं चंडीगढ़ ऐसे हैं जिनकी सीमा अंतर्राष्ट्रीय सीमा को स्पर्श नहीं करती ।
  • भारत की स्थलीय सीमाएँ 7 देशों- उत्तर – पश्चिम में पाकिस्तान , अफगानिस्तान , उत्तर में चीन , नेपाल और भूटान तथा पूर्व में म्यांमार व बांग्लादेश के साथ लगी हुई हैं । दक्षिण में दो पड़ोसी द्वीपीय बांग्लादेश , श्रीलंका , मालदीव व भारत को भारतीय उपमहाद्वीप के राष्ट्र- श्रीलंका और मालदीव स्थित हैं । पाकिस्तान , नेपाल , भूटान , बड़ा अंतर्गत शामिल किया जाता है ।
  • क्षेत्रफल व जनसंख्या की दृष्टि से भारत दक्षिण एशिया का सबसे देश है । भारत के 16 राज्यों एवं 2 केंद्रशासित प्रदेशों की सीमाएँ पड़ोसी देशों से मिलती हैं ।
  • भारत एवं श्रीलंका ‘ पाक – जलसंधि ‘ द्वारा आपस में जुड़े हुए हैं । भारत के तमिलनाडु एवं श्रीलंका के मध्य ‘ आदम ब्रिज ‘ स्थित है । ‘ पम्बन द्वीप ( रामेश्वरम् ) ‘ इसी ब्रिज का हिस्सा है । आदम ब्रिज की शुरुआत ‘ धनुष्कोडी ‘ नामक स्थान से होती है ।
भारत से संबंधित अन्य प्रमुख तथ्य
प्रादेशिक जल सीमा- 12 समुद्री मील तक

संलग्न क्षेत्र मंडल- 24 समुद्री मील तक

अनन्य क्षेत्र मंडल- 200 समुद्री मील तक

भारत का औसत समुद्रतल का मापन- चेन्नई से

जनसंख्या के आधार पर विश्व में स्थान- दूसरा ( क्रमश : चीन . भारत , संयुक्त राज्य अमेरिका , इंडोनेशिया , ब्राज़ील )

क्षेत्रफल के आधार पर विश्व में स्थान- सातवाँ ( क्रमश : रूस , कनाडा , संयुक्त राज्य अमेरिका , चीन , ब्राज़ील , ऑस्ट्रेलिया )

विश्व के क्षेत्रफल में हिस्सा- 2.4 प्रतिशत

पड़ोसी देशों की संख्या- 7

विश्व जनसंख्या का प्रतिशत- 17.5 प्रतिशत

प्रतिशत पूर्वी एवं पश्चिमी छोर के बीच समय अंतराल- 2 घंटे

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *